Sehwag PX
एचडीएफसी एर्गो होम इन्शुरन्स

#Virukipolicy | T&C*

एचडीएफसी जो भारत में अब "घर" का पर्यायवाची है और एर्गो जो जीवन के अलावा अन्य बीमा के समाधानों में दुनिया भर में एक जाना माना नाम है, उनके संयुक्त उद्यम एचडीएफसी एर्गो जनरल इन्शुरन्स की स्थापना साल 2002 में हुई थी और आज यह इन्शुरन्स के बाजार में एक अग्रणी नाम है। एचडीएफसी एर्गो जनरल इन्शुरन्स कंपनी इंसानों की  अलग तरह की ज़रूरतों के लिए कई इन्शुरन्स प्लान प्रदान करती है जैसे, हेल्थ इन्शुरन्स प्लान, ट्रेवल इन्शुरन्स प्लान, पर्सनल एक्सीडेंट कवर प्लान और होम लोन प्लान, जो कि 109 शाखाओं और 89 शहरों में ग्राहकों के लिए पारदर्शिता और सुनिश्चित सही सहायता के कारण बहुत लाभदायक हैं।

अपने परिवार को सुरक्षित करने में देर ना करें क्योंकि हमें नहीं पता होता कि अगले पल ने अपनी मुट्ठी में क्या दबा रखा है। अपने प्रियजनों के लिए घर आपका एक बार का निवेश है। आपके घर ने आपके जीवन की खुशियों और दुःख की बेहिसाब कहानियां देखी हैं और आपको अपने घर के लिए असीमित प्रेम और स्नेह है।  आपका दिन चाहे कितना ही बुरा रहा हो लेकिन अंत में आपको अपने घर जाकर ही शान्ति मिलती है और वहां आपकी साड़ी चिंताएं बिना किसी देरी के गायब हो जाती हैं। तो अपनी तनाव हटाने वाली और प्यारी जगह को सुरक्षित रखना आपकी ज़िम्मेदारी है। आजकल बहुत सारी इन्शुरन्स हैं और हर व्यक्ति आपने स्वास्थ्य और अपने परिवार का स्वास्थ्य हेल्थ इन्शुरन्स से सुरक्षित करता है, तो फिर अपने घर के स्वास्थ्य को होम इन्शुरन्स से सुरक्षित करने के बारे में क्यों नहीं सोचते?

एचडीएफसी एर्गो: उपलब्धियां

अपनी स्थापना के बाद से एचडीएफसी एर्गो जनरल इन्शुरन्स कंपनी ने अपनी सेवाओं के लिए बहुत सारे पुरस्कार जीते हैं।

  • आईसीआरए द्वारा कंपनी को आइएएए स्तर का आँका गया है जो कंपनी की उच्चतम भुगतान क्षमता दर्शाता है।
  • एबीपी न्यूज़ - बैंकिंग फाइनेंसियल सर्विसेज एंड इन्शुरन्स अवार्ड्स 2014 की वर्ल्ड एचआरडी कांग्रेस के द्वारा एचडीएफसी एर्गो जनरल इन्शुरन्स कंपनी को निजी क्षेत्र - जनरल में सर्वश्रेष्ठ इन्शुरन्स कंपनी का पुरस्कार दिया गया।
  • साल 2013 और 2014 में इंटरनेशनल अल्टरनेटिव इन्वेस्टमेंट रिव्यु (आईएआईआर) द्वारा भारत की सर्वश्रेष्ट इन्शुरन्स कंपनी का पुरस्कार दिया गया।

एचडीएफसी एर्गो होम इन्शुरन्स प्लान

एचडीएफसी एर्गो होम इन्शुरन्स प्लान आपके घर को प्राकृतिक या मानवीय हादसों के बड़े जोखिमों से सुरक्षित करते हैं। एचडीएफसी एर्गो होम इन्शुरन्स ऐसे प्लान प्रदान करती है जो बाढ़, सेंधमारी, चोरी और आग से संबंधित खतरों और नुकसान को कवर करते हैं। आपका कीमती सामान भी एचडीएफसी एर्गो होम इन्शुरन्स प्लान के अंतर्गत सुरक्षित होगा। आप अपने इन्शुरन्स प्लान को कुछ और चीज़ें जोड़ कर अपने हिसाब से भी बना सकते हैं क्योंकि हमारी प्रणाली ग्राहकों की ज़रूरत के हिसाब से लचीली है। यदि घर में सुरक्षा प्रणाली लगाईं गयी है, तो बीमाधारक को 25% तक डिस्काउंट मिल सकता है और इसके अलावा आपके पॉलिसी के चुनाव के आधार पर अतिरिक्त डिस्काउंट भी मिल सकता है। वे आपको स्वस्थ और समझदारी भरा विकल्प चुनने के लिए दो प्लान देते हैं:

  • आग और उससे जुड़े जोखिमों के लिए कवरेज क) इमारत  ख) सामान
  • चोरी और सेंधमारी

एलिजिबिलिटी

  • वे व्यक्ति जो एक घर या फ्लैट में रहते हैं। घर या फ्लैट की बाहरी दीवार जली हुई ईंटों, कंक्रीट ब्लॉक और पत्थरों की बनी हुई होनी चाहिए, छत आरबीसी, टाइलों या एसीसी की बनी हुई होनी चाहिए।
  • जो घर में किरायेदार के तौर पर रह रहे हैं वे चोरी और आग के लिए कंटेंट होम इन्शुरन्स पॉलिसी ले सकते हैं।
  • किसी भी हाउसिंग सोसाइटी की प्रबंधन समिति का कोई अधिकृत सदस्य ऐसी पॉलिसी ले सकता है जो आम उपयोग की चीज़ों और सोसाइटी की इमारतों को कवर और सुरक्षित करती है।
  • घर का मालिक एचडीएफसी एर्गो होम इन्शुरन्स की बहु वर्षीय पॉलिसी सिर्फ तभी ले सकता है जब इमारत की कवरेज (सेक्शन 1 इ) में अनियार्य हो।

अपवाद

पॉलिसी में हर चीज़ शामिल नहीं होती इसलिए होम इन्शुरन्स पॉलिसी खरीदने से पहले आपको हर चीज़ की जानकारी होनी चाहिए। कुछ चीज़ें जो पॉलिसी में शामिल नहीं होती वे इस प्रकार हैं:

  • युद्ध या सांप्रदायिक दंगों की वजह से संपत्ति को होने वाला नुकसान या क्षति होम इन्शुरन्स प्लान में शामिल नहीं होते।
  • प्रदूषण और मकान मालिक या पॉलिसीधारक की लापरवाही से होने वाला नुकसान कवर नहीं होंगे।
  • इमारत के धीरे धीरे नष्ट होने की वजह से कोई बड़ी कमी हो जाए तो वह पॉलिसी में कवर नहीं हो सकती।
  • रेडियोएक्टिव प्रक्रिया या किसी प्रकार के नाभिकीय जोखिमों सा संपत्ति को होने वाले नुकसान और क्षति कवर नहीं होंगे।

अपवादों की विस्तृत सूची के लिए आपको एचडीएफसी एर्गो होम इन्शुरन्स की पॉलिसी शब्दावली को ध्यान से पढ़ना चाहिए क्योंकि आपको पालिसी की पूरी जानकारी होनी चाहिए ताकि भविष्य में कोई ग़लतफ़हमी ना हो।