Sehwag PX
मैक्स बूपा पर्सनल एक्सीडेंट इन्शुरन्स
  • 100+ शीर्ष इन्शुरन्स प्लान
  • 5 लाख रुपये का कवरेज @ ₹16/प्रतिदिन*
  • तुरंत पॉलिसी खरीदें

#Virukipolicy | T&C*

प्रीमियम की तुलना करें

नाम
फोन नंबर

आगे बढ़ कर आप हमारी T&C और गोपनीयता नीति को स्वीकार कर रहे हैं

कृपया अन्य जानकारी दर्ज करें

कवर फोर
जन्म तिथि (सबसे बड़ा सदस्य)
ईमेल
शहर

मैक्स बूपा हेल्थ इन्शुरन्स कंपनी मैक्स इंडिया लिमिटेड और बूपा जो की ब्रिटेन की हेल्थ केयर सर्विस है का कंबाइन प्रोजेक्ट है। मैक्स इंडिया हेल्थ केयर और इन्शुरन्स सेगमेंट में कुछ लीडिंग कम्पनीज में से एक है, जबकि बुपा के पास हेल्थ केयर इंडस्ट्री में छह दशकों का एक्सपीरियंस है। इसलिए मैक्स बूपा सबसे अच्छी हेल्थ केयर सर्विस देने वाली कंपनियों का एक काफी अच्छा कॉम्बिनेशन है। कंपनी के पास कई तरह की पॉलिसीस हैं जो हेल्थ और पर्सनल एक्सीडेंट्स के सभी मामले और रिस्क्स को कवर करती हैं।

मैक्स बूपा रियल विजन में यकीन करती है और कंपनी का लक्ष्य टॉप की फेमस हेल्थ इंश्योरेंस कंपनी बनना है। कंपनी के पास इस फील्ड के सबसे अनुभवी एक्सपर्ट्स हैं जो कंपनी की सपने को हकीकत में बदलने के लिए लगातार काम कर रहे हैं। कंपनी का उद्देश्य हेल्थ केयर पार्टनर्स के रूप अपनी एक्सपेर्टीस कस्टमर्स को उपलब्ध कराके उन्हें हैल्थी और सक्सेस्फुल लाइफ देने में मदद करना है। इसके लिए कंपनी ने बेस्ट हेल्थ इन्शुरन्स सर्विस देकर इंडस्ट्री में एक स्टैण्डर्ड सेट कर दिया है। फर्म के लिए, ये सिर्फ हेल्थ इन्शुरन्स या एनुअल ट्रांसक्शन नहीं है बल्कि कंपनी का उद्देश्य कस्टमर्स के साथ लॉन्ग टर्म रिलेशनशिप बनाना है।

मैक्स बूपा: अचीवमेंट्स

कस्टमर्स को शानदार सर्विस देने की लगातार की गई कोशिश को देखते हुए 2012 में मैक्स बूपा को हेल्थ इन्शुरन्स कंपनी ऑफ़ दी ईयर का अवार्ड दिया गया। 2015 में गोल्डन पेटल ने कंपनी को मोस्ट इनोवेटिव फर्म का अवार्ड दिया। मैक्स बूपा देश की सबसे अच्छी कंपनी बनने के लिए लगातार मेहनत कर रही है।

मैक्स बूपा पर्सनल एक्सीडेंट: ऑनलाइन फैसिलिटीज

मैक्स बूपा पर्सनल एक्सीडेंट पॉलिसी आपको कई तरह के फायदे देती है जिनमे से एक है ऑनलाइन सर्विस जिसमे आप कही पर भी बैठे हुए पॉलिसी ले सकते हैं जो बहुत आसान और प्रैक्टिकल तरीका है। आपको सिर्फ चाहिए एक इंटरनेट कनेक्शन और पेमेंट के लिए नेट बैंकिंग, क्रेडिट या डेबिट कार्ड। आप ऑनलाइन जाकर  नया प्लान ले सकते हैं, रिन्यू या कैंसिल भी कर सकते हैं। इसमें कस्टमर्स का ही फायदा है क्योंकि बार-बार पॉलिसी लेने के लिए आपको इधर उधर जाने की जरूरत नहीं है यहां तक की क्लेम करने की फैसिलिटी भी ऑनलाइन अवेलेबल है। आप एक्सीडेंट होने के 30 दिनों के अंदर ऑनलाइन क्लेम कर सकते है। इन्शुरन्स होल्डर की डेथ हो जाने पर नॉमिनी को 30 दिनों के अंदर कंपनी को इन्फॉर्म करना होता है। इस प्रोसेस में आपका समय बचता है क्योंकि आप ये सारे काम घर बैठे कर सकते हैं। हालाँकि पॉलिसी ख़त्म होने के बाद मिलने वाले ग्रेस पीरियड में आप ऑनलाइन प्रोसेस का बेनिफिट नहीं ले सकते और आपको ब्रांच ऑफिस में सभी डिटेल्स देनी होती है क्योंकि ऑनलाइन दी गयी आपकी सारी इनफार्मेशन हट जाती है तो इसे आप एक छोटी सी प्रॉब्लम मान सकते हैं हालाँकि ऑनलाइन मोड पॉलिसी खरीदने का एक बहुत ही आसान और सुविधाजनक तरीका है।

मैक्स बूपा पर्सनल एक्सीडेंट प्लान

पर्सनल एक्सीडेंट इन्शुरन्स बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि कल क्या होगा ये कहा नहीं जा सकता। हमें यह नहीं पता होता है की कब एक एक्सीडेंट की वजह से हमारी लाइफ में प्रोब्लेम्स आ सकती हैं। लेकिन अगर आप के पास एक पर्सनल एक्सीडेंट इन्शुरन्स प्लान है तो ये एक्सीडेंट की वजह से होने वाली फाइनेंसियल प्रोब्लेम्स से निपटने के लिए आपकी और आपके परिवार की हेल्प करता है। इन प्लान्स में नीचे दिया हुआ कवरेज शामिल है: -

एक्सीडेंटल डेथ प्लान

एक्सीडेंट के बाद और उसकी वजह से अगर 90 दिनों के अंदर इन्शुरन्स होल्डर की डेथ हो जाती है तो पॉलिसी मे लिखी हुई राशि नॉमिनी को दे दी जाती है।

परमानेंट टोटल डिसेबिलिटी प्लान

इस प्लान में टोटल इन्शुरन्स अमाउंट का 125% तक कवर किया जाता है। अगर व्यक्ति कोई काम ना कर पाए, हाथ या आँखों का इस्तेमाल न कर सके और किसी भी प्रकार की एक्टिविटी नहीं कर सके तो इन्शुरन्स होल्डर को परमानेंट डिसएबल डिक्लेअर कर दिया जाता है।

परमानेंट पार्शियल डिसेबिलिटी प्लान

इस प्लान में, अगर इन्शुरन्स होल्डर एक्सीडेंट होने के और उसकी वजह से 90 दिनों के अंदर पार्शियल डिसेबल हो जाये तो लमसम अमाउंट दिया जाता है। अगर इन्शुरन्स होल्डर की डेथ हो जाये तो जब तक क्लेम अप्प्रूव नहीं हो जाता तब तक कोई अमाउंट नहीं दिया जाता है।

चाइल्ड एजुकेशन प्लान बेनिफिट

यह बेनिफिट उन प्लान्स में लागू होता है जिसमे बच्चों को कवरेज दिया जाता है। एक्सीडेंट की वजह से डेथ या परमानेंट डिसेबिलिटी होने पर इन्शुरन्स अमाउंट का 5% या 50,000 दोनों में से जो भी कम हो दिया जाता है।

फ्यूनरल एक्सपेंसेस

इन्शुरन्स होल्डर की डेथ होने पर 5000 रुपये फ्यूनरल एक्सपेंस के रूप में दिए जाते हैं। इन्शुरन्स होल्डर और उसकी फॅमिली को तो कवर मिलता ही है उसके अलावा एक लमसम अमाउंट जैसे की इन्शुरन्स होल्डर के लिए टोटल इन्शुरन्स अमाउंट, पति या पत्नी के लिए 10 लाख या इन्शुरन्स अमाउंट का 50% जबकि बच्चों के लिए 2 लाख या इन्शुरन्स अमाउंट 20% भी दिया जाता है।