Sehwag PX
रहेजा क्यूबीई पर्सनल एक्सीडेंट
  • कवरेज उपलब्ध 10 करोड़ तक
  • टर्म प्लान @ ₹10/प्रतिदिन से शुरू
  • टैक्स लाभ यू /एस 80 सी

#Virukipolicy | T&C*

प्रीमियम की तुलना करें

1

2

फोन नंबर
नाम
जन्म तिथि

1

2

आय
शहर

आगे बढ़ कर आप हमारी T&C और गोपनीयता नीतिको स्वीकार कर रहे हैं

रहेजा क्यूबीई एक डायनामिक बिज़नेस ग्रुप है जो अपने ग्राहकों को इन्शुरन्स की फैसिलिटी भी देता है। ये एक जॉइंट वेंचर है जिसे प्रिज्म सीमेंट लिमिटेड का सपोर्ट प्राप्त है। 1938 में कंपनी का रजिस्ट्रेशन इन्शुरन्स रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट ऑथोरिटी के साथ सेक्शन 3 (इन्शुरन्स एक्ट) के तहत एक जनरल इन्सुरेर के रूप में किया गया था। ऑयआरडीए ने इस रजिस्ट्रेशन का सर्टिफिकेट 2 दिसंबर 2008 को जारी किया था। रहेजा क्यूबीई पर्सनल एक्सीडेंट इन्शुरन्स ऐसा इन्वेस्टमेंट प्लान है जिसमे घर और घर के सामान के लिए कवरेज दिया जाता है।

रहेजा क्यूबीई: अचीवमेंट्स

कंपनी कस्टमर्स को उनके मुश्किल समय में हेल्प और स्टेबिलिटी देने के अलावा बेस्ट कस्टमर सैटिस्फैक्शन देने के लिए जानी जाती रही है। क्यूबीई का सोर्स पूल बहुत स्ट्रॉन्ग है और इसलिए रिस्क मैनेजमेंट में इनका ट्रैक रिकॉर्ड काफी अच्छा है। क्यूबीई की पॉलिसी को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्टैण्डर्ड एंड पूअर्स इन्शुरन्स फाइनेंसियल स्ट्रेंग्थ ने ए प्लस रेटिंग दी है और ये आपके कंपनी को चुनने और अपने जीवन के आने वाले किसी भी कठिन समय के लिए भरोसा जताने का एक अच्छा कारण हो सकता है।

रहेजा क्यूबीई पर्सनल एक्सीडेंट: ऑनलाइन फैसिलिटीज

आज के समय में सभी ऑनलाइन पेमेन्ट सिस्टम को सबसे अच्छा मानते हैं। इसका एक बड़ा कारण है की यह समय बचाता है। यह प्रोसेस बहुत आसान होता है और कोई भी आसानी से बिना किसी प्रैक्टिस के प्रोसेस कम्पलीट कर सकता है। आप कंपनी के वेबसाइट पोर्टल पर जाएं और लॉगिन करें। लॉग इन करने के बाद, आप जिस पॉलिसी में इंटरेस्टेड हैं उसके डिटेल्स चेक करके अच्छे से समझ सकते है। बाद में अगर पॉलिसी लेना चाहें तो डेबिट कार्ड या नेट-बैंकिंग का इस्तेमाल करके पॉलिसी ले सकते हैं जिसमे ना आपको चेक जमा करना है ना ही रीजनल ऑफिस जाने की जरूरत है। पॉलिसी लेने के बाद जरूरत पड़ने पर आप पॉलिसी नंबर ऑनलाइन टाइप करके डिटेल्स चेक कर सकते हैं। ऑनलाइन पॉलिसी बाजार में कई एजेंट हैं जो आपको पर्सनल एक्सीडेंट के लिए कवरेज देते हैं, लेकिन, अगर आप पॉलिसी के नियमों को अच्छे से नहीं समझते हैं तो एक्सीडेंट होने पर इन्शुरन्स क्लेम करने में परेशानी हो सकती है। ये बहुत जरूरी है की आप सभी छुपी शर्तो और पॉलिसी डाक्यूमेंट्स की अच्छी तरह से जाँच परख करें, ये जरूर चेक करें की किन सिचुएशंस को कवर किया गया है और उसके बाद ही इन्शुरन्स पॉलिसी खरीदें।

रहेजा क्यूबीई पर्सनल एक्सीडेंट प्लान्स

पर्सनल एक्सीडेंट इन्शुरन्स में नीचे दिए गये प्लान्स शामिल हैं, आप इनमे से कोई भी प्लान अपनी जरूरत के हिसाब से ले सकते हैं:

एक्सीडेंटल डेथ प्लान

एक्सीडेंट के 12 महीने के अंदर और एक्सीडेंट की वजह से होने वाली डेथ को ये प्लान कवर करता है।

परमानेंट टोटल डिसेबिलिटी प्लान

एक्सीडेंट की तारीख से 12 महीने के अंदर और उसके कारण हुई टोटल डिसेबिलिटी के मामले में 100% प्रिंसिपल अमाउंट दिया जाता है।

परमानेंट पार्शियल डिसेबिलिटी प्लान

एक्सीडेंट के 12 महीनों के अंदर शरीर का कौन सा हिस्सा डिसएबल हुआ है उसके आधार पर इन्शुरन्स डॉक्यूमेंट के टर्म्स और कंडीशंस में लिखा प्रिंसिपल अमाउंट का परसेंटेज कंपनी द्वारा दिया जाता है।

टेम्पररी टोटल डिसेबिलिटी प्लान

इस प्लान को लेते समय आपने जो भी टर्म्स और कंडीशंस माने थे उसके आधार पर कंपनी हेल्प करेगी हालाँकि किसी भी तरह की डिसेबिलिटी एक्सीडेंट के कारण हुई होनी चाहिए।

नोट: आप अपनी जरूरत के हिसाब से किसी भी प्लान को एक साथ क्लब कर सकते हैं। कंपनी की पर्सनल एक्सीडेंट इन्शुरन्स पॉलिसी सभी 4 प्लान्स को क्लब करने की फैसिलिटी भी देती है। एक्सीडेंट में ख़राब हुए कपडे, इंजरी होने या इन्शुरन्स होल्डर की डेथ  के मामले में बॉडी ले जाने के लिए एम्बुलेंस खर्च (अंतिम संस्कार भी शामिल) ये सब कंपनी कवर करती है। इन्शुरन्स होल्डर की डेथ  के मामले में बच्चों के एजुकेशन में हेल्प की जाती है। अगर इन्शुरन्स होल्डर ज्यादा प्रीमियम भरता है तो उसे ज्यादा कवरेज दिया जाता है। मेडिकल ट्रीटमेंट और हॉस्पिटल में रहने का खर्च भी इसमें शामिल किया गया है जो इन्शुरन्स होल्डर की डेथ हो जाने पर उसके परिवार के लिए एक बड़ी मदद होती है।

रहेजा क्यूबीई पर्सनल एक्सीडेंट इन्शुरन्स: एक्सक्लूशन (क्या कवर नहीं किया गया है)

  • किसी भी तरह का जोखिम जैसे आत्महत्या का प्रयास या किसी भी तरह की इमरजेंसी मेडिकल एडवाइस को ना मानना।
  • शराब और नशीली दवाओं का सेवन।
  • किसी क्रिमिनल एक्ट में शामिल होने की वजह से लगने वाली चोट।
  • वेनेरिअल रिलेटेड बीमारियां इस इन्शुरन्स प्लान में शामिल नहीं हैं।
  • टेरेरिस्ट अटैक या परमाणु हथियारों की वजह से लगने वाली चोट।
  • प्रेगनेंसी के कारण किसी भी प्रकार की डिसेबिलिटी (प्रेगनेंट होने के समय से लेकर डिलीवरी तक)।
  • किसी भी तरह का पागलपन।

- / 5 ( Total Rating)